राज्य

चुनाव के पहले चरण के दौरान एक दिन पहले आंबेडकर को लेकर दलित और यादव समुदाय में झड़प, एक की हत्या

पटना
लोकसभा चुनाव के पहले चरण के तहत बिहार की चार सीटों पर 19 अप्रैल को मतदान होगा। इस बीच राजधानी पटना से बड़ी खबर सामने आई है। दानापुर में कथित तौर पर मामूली विवाद के बाद दो जातियों के बीच हुई झड़प के बाद एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वहीं तीन अन्य लोग झड़प में घायल भी हुए हैं। हालांकि, पुलिस की ओर से दावा करते हुए कहा गया है कि दलित जाति के लोगों के द्वारा सरकारी जमीन पर आंबेडकरी की मूर्ति लगाई जा रही थी, जिसका यादव जाति के लोगों ने विरोध किया। इसे लेकर दोनों पक्षों बीच तनाव उत्पन्न हो गया। बुधवार की रात दोनों पक्ष आमने सामने आ गए। एक पक्ष की ओर से फायरिंग की गई, जिसमें एक युवक की मौत हो गई। वहीं तीन अन्य लोग घायल भी हुए हैं। घटना के बाद इलाके में तनाव का माहौल है, जिसे देखते हुए भारी संख्या में पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है।

सिटी एसपी (पश्चिम) अभिनव धीमान ने एचटी को बताया कि घटना बुधवार देर शाम की है। रात करीब साढ़े नौ बजे पुलिस को सूचना मिली कि दो लोग खून से लथपथ पड़े हैं, जिनमें से एक को गोली लगी है जबकि दूसरे के सिर में चोट है। उन्होंने बताया कि सूचना मिलने पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची और दोनों घायलों को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। गोली लगने से घायल हुए युवक को सदर अस्पताल के डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया और दूसरे को पीएमसीएच रेफर कर दिया। पुलिस ने बताया कि मृतक की पहचान बिक्रम कुमार राम के रूप में हुई है।

इस संबंध में कालेश्वरी देवी नाम की महिला ने शाहपुर थाने में शिकायत दर्ज करायी है कि आंबेडकर जयंती के दिन दलित जाति के लोगों की ओर से  एक समारोह का आयोजन किया था। कुछ असामाजिक तत्वों ने समुदाय के खिलाफ अभद्र भाषा और अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया। जिसके बाद दो पक्षों के बीच मारपीट हुई। इस दौरान एक दूसरे को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी भी दी गई। कुछ देर बाद एक पक्ष की ओर से पथराव और अंधाधुंध अंधाधुंध फायरिंग की गई। गोलीबारी में बिक्रम कुमार राम, उदय कुमार राम, सुमित कुमार राम और भगवती देवी घायल हो गए। वहीं ग्रामीणों का दावा है कि घटना में शामिल लोग बाहुबली और हिस्ट्रीशीटर बताए जा रहे हैं। सिटी एसपी ने बताया है कि एहतियात के तौर पर गांव में पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है और हमलावरों की पहचान करने के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाला जा रहा है। इसके अलावा पांच संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है। मौके पर एफएसएल टीम भी पहुंची और कुछ सबूतों को इकट्ठा किया है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button