भोपालमध्य प्रदेश

दो दिन बाद ही ट्रैनिंग से लौटे, 16 फरवरी तक चलना था प्रशिक्षण

भोपाल

हैदराबाद के सरदार वल्लभ भाई पटेल नेशनल पुलिस एकेडमी में डेढ़ महीने की ट्रैनिंग करने के लिए गए अफसरों में से तीन जिलों के पुलिस अधीक्षकों को वापस बुला लिया गया है।  इस सभी की ट्रैनिंग सोमवार से शुरू हुई थी,जो 16 फरवरी तक चलती थी। जिन जिलों के पुलिस अधीक्षकों को वापस बुलाया गया है, वे तीनों ही जिले संवेदनशील माने जाते हैं।

प्रदेश के 17 आईपीएस अफसरों को इंडक्शन ट्रैनिंग कोर्स करवाने के लिए गृह विभाग ने सूची जारी की थी। इसमें से तीन अफसर नहीं गए थे। सोमावार से शुरू हुई ट्रैनिंग में शामिल हो चुके तीन अफसरों को अचानक से शासन ने वापस बुला लिया है। इसमें एसपी खरगौन धरमवीर सिंह, एसपी बुरहानपुर देवेंद्र पाटीदार और एसपी इंदौर ग्रामीण सुनील कुमार मेहता को वापस बुलाया गया है। खरगौन, बुरहानपुर और इंदौर ग्रामीण तीनों ही जिले संवेदनशील माने जाते हैं। इन दिनों प्रदेश भर में राम मंदिर को लेकर प्रभात फेरी सहित अन्य आयोजन हो रहे हैं।प्रभात फेरी के दौरान शाजापुर जिले में हाल ही में पथराव हो गया था। इसके बाद से पुलिस मुख्यालय ने विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए थे। इसी के चलते इन तीनों जिलों के पुलिस अधीक्षकों को वापस  ड्यूटी पर बुला लिया गया है। तीनों ने वापस आकर अपना काम-काम संभाल लिया है। गौरतलब है कि वर्ष 2022 की रामनवमी पर खरगौन में दंगे हुए थे। इसके बाद से यहां पर हर धार्मिक जुलूस आदि पर विशेष सुरक्षा व्यवस्था लगाई जाती है।

ये अफसर गए थे हैदराबाद
सीबीआई में प्रतिनियुक्ति पर पदस्थ आलोक कुमार, पुलिस अधीक्षक खरगौन धर्मवीर सिंह, एआईजी पुलिस मुख्यालय मनीष खत्री, पुलिस अधीक्षक पांढुर्णा राजेश कुमार त्रिपाठी, एसपी इंदौर ग्रामीण सुनील कुमार मेहता, एसपी मऊगंज वीरेंद्र जैन, एसपी बुरहानपुर देंवेंद्र पाटीदार, एसपी श्योपुर राय सिंह नरवरिया, डीसीपी भोपाल रामशरण प्रजापति, डीसीपी भोपाल सुंदर सिंह कनेश, एसपी अलीराजपुर राजेश व्यास, एसपी आगर मालवा विनोद कुमार सिंह, एसपी मैहर सुधीर कुमार अग्रवाल, डीसीपी इंदौर पंकज पांडे, डीसीपी भोपाल संजय कुमार अग्रवाल इन अफसरों को ट्रैनिंग पर भेजा गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button