देश

कोच्चि निवासी ने ली विस्फोट की जिम्मेदारी, केरल पुलिस के समक्ष किया आत्मसमर्पण

कोच्चि
एक बड़े घटनाक्रम में रविवार को कलामासेरी में एक कन्वेंशन सेंटर में हुए बम विस्फोट की जिम्मेदारी लेते हुए कोच्चि के एक व्यक्ति ने केरल पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है। सूत्रों ने इसकी पुष्टि की है। सूत्रों के मुताबिक, धमाकों की जिम्मेदारी लेने वाले शख्स ने त्रिशूर थाने के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया है। आरोपी ने दावा किया है कि उसने बम लगाया था जिसके परिणामस्वरूप एक महिला की मौत हो गई और 40 लोग घायल हो गए। घायलों में सात की हालत गंभीर है। पुलिस शख्स से पूछताछ कर रही है। सूत्रों ने बताया कि वह व्यक्ति खुद आया और पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। इस संबंध में अभी और विवरण की प्रतीक्षा है।

इस बीच, केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने विस्‍फोट पर चर्चा के लिए सोमवार को राज्य की राजधानी तिरुवनंतपुरम में एक सर्वदलीय बैठक बुलाई है।
केरल के कलामासेरी कन्वेंशन सेंटर में रविवार को हुए धमाकों की जांच से पता चला है कि विस्फोट को अंजाम देने के लिए टिफिन बॉक्स में रखे गए इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) का इस्तेमाल किया गया था।सूत्रों ने पुष्टि की थी कि यह आतंक पैदा करने के इरादे से किया गया था। विस्फोट के समय कन्वेंशन सेंटर में लगभग दो हजार लोग थे।कोच्चि से राष्ट्रीय अन्‍वेंषण एजेंसी (एनआईए) की चार सदस्यीय टीम मौके पर पहुंच चुकी है।

सूत्रों ने पुष्टि की कि नई दिल्ली से एनआईए टीम जांच संभालने के लिए केरल रवाना हो चुकी है।पुलिस के अनुसार, घटनास्‍थल से कई विस्फोटों की सूचना मिली थी। यहोवा के साक्षी में विश्‍वास करने वालों की बैठक आयोजित की गई थी। विस्फोट सुबह करीब 9 बजे हुए थे। हॉल को सील कर दिया गया है और केरल पुलिस का आतंकवाद निरोधक दस्ता घटनास्थल पर है।यहोवा के साक्षी ईसाइयों का एक समूह है जो खुद को प्रोटेस्टेंट के रूप में नहीं मानते हैं। यहोवा साक्षी सम्मेलन एक वार्षिक बैठक है जहाँ बड़ी सभाएँ होती हैं जिन्हें क्षेत्रीय सम्मेलन कहा जाता है।

 यह तीन दिनों तक चलता है। सूत्रों के मुताबिक यह आयोजन शुक्रवार को शुरू हुआ था और रविवार को इसका समापन होना था।सूत्रों ने कहा कि सभी घायलों को कलामासेरी के सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया है।केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने इस घटना को "बहुत दुर्भाग्यपूर्ण" बताया। उन्होंने विश्‍वास दिलाया कि सभी पहलुओं की गहराई से जांच की जाएगी।मुख्‍यमंत्री विजयन आज पार्टी की बैठक के लिए दिल्‍ली में थे। उन्होंने राज्य के सहकारिता मंत्री वी.एन. वासवन को प्रतिनियुक्त किया है।वासवन ने घटनास्थल पर मीडिया से कहा कि यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण घटना थी। विस्फोट का विवरण अभी तक पता नहीं चला है। माकपा के राज्य सचिव एम.वी. गोविंदन ने कहा कि घटना में आतंकी पहलू को भी देखा जाना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button