मध्यप्रदेश को पोषण अभियान 2018 -19 में उल्लेखनीय कार्य के लिए महिला-बाल विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा आज नई दिल्ली में तीन श्रेणियों में राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किये गये। केंद्रीय महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती स्मृति जुबिन ईरानी ने मध्यप्रदेश के प्रमुख सचिव महिला-बाल विकास श्री अनुपम राजन को ये पुरस्कार प्रदान किये। पोषण अभियान की दो श्रेणी में प्रदेश को देश में पहला तथा एक अन्य श्रेणी में दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है।

पोषण अभियान में राज्य स्तर पर बेहतर प्रदर्शन के लिए प्रदेश को आईसीडीएस कॉमन एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को उत्कृष्टता से लागू करने और आँगनवाड़ियों में सतत क्षमता विकास अभिसरण समुदाय आधारित गतिविधियों के लिए एक-एक करोड़ रुपए के प्रथम पुरस्कार मिले हैं। समग्र कार्य में उत्कृष्टता के लिए  प्रदेश को दूसरे स्थान पर 75 लाख रुपए का पुरस्कार मिला है।

राज्य के 16 जिलों में लागू आईसीटी आरटीएम सिस्टम से 27 हजार 817 आँगनवाड़ी कार्यकर्ता सीधे मोबाइल से भारत सरकार के सर्वर में डाटा भेजते हैं। इससे सीधे ऑनलाइन डिजिटल मॉनिटरिंग की जाती है।

इस अवसर पर केंद्रीय सचिव महिला-बाल विकास श्री रविंद्र पवार, अतिरिक्त सचिव श्री अजय तिर्की, संयुक्त सचिव श्री सज्जन सिंह यादव तथा प्रदेश के आयुक्त महिला-बाल विकास श्री एम.बी. ओझा उपस्थित थे।

श्रेष्ठ जिला बड़वानी-श्रेष्ठ विकासखण्ड बहोरीबंद

भारत सरकार द्वारा पोषण अभियान में श्रेष्ठ जिले के रूप में बड़वानी और श्रेष्ठ विकासखंड के रूप में बहोरीबंद जिला कटनी को पुरस्कृत किया गया है। कटनी एवं विदिशा जिले के 10 क्षेत्रीय केन्द्रों में आँगनवाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, एएनएम ,आशा तथा पर्यवेक्षक को 50- 50 हजार रुपए नगद पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

प्रदेश में पोषण अभियान के तहत पाँच घटक में कार्य किया गया। ये घटक हैं आईसीडीएस कॉमन एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर, इन्क्रीमेंटल लर्निंग अप्रोच, सामुदायिक आधारित गतिविधियाँ, अभिसरण कार्य-योजना और जन-आंदोलन।