भोपाल : संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास ने कहा है कि प्रदेश में किसी नये टिड्डी दल के प्रवेश की सूचना नहीं है। पूर्व में राजस्थान के सीमावर्ती जिलों से प्रवेश करने वाले टिड्डी दलों पर प्रभावी नियंत्रण किया गया है।

संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास ने बताया कि मंगलवार को ग्वालियर संभाग के अशोकनगर के चंदेरी विकासखंड के फतेहाबाद ग्राम तथा मुंगावली विकासखंड के घाट बमोरी ग्राम में टिड्डी दल का रात्रि विश्राम पाया गया जिनके नियंत्रण के लिये 2-2 फायर ब्रिगेड से कीटनाशकों का छिड़काव किया गया।

इसी प्रकार सागर संभाग के दमोह जिले में 3 स्थानों पर टिड्डी दलों का ठहराव हुआ। प्रथम दल दमोह विकासखंड के ग्राम बरपटा, डाभोर में था, जहाँ नियंत्रण के लिये 4 फायर ‍ब्रिगेड द्वारा 80 लीटर कीटनाशकों का छिड़काव कर नियंत्रण की कार्यवाही की गई। इसी प्रकार विकासखंड जबेरा के ग्राम 17 मील और दमोह विकासखंड के ग्राम देवरी, जामदार, महुआखेड़ा में भी 1-1 फायर ब्रिगेड द्वारा कीटनाशकों का छिड़काव किया गया।

प्रदेश के समस्त जिलों में किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के अमले को टिड्डी दलों पर सतत् निगरानी रखने के निर्देश दिये गये हैं। किसानों को भी टिड्डी दल के नियंत्रण के लिये जागरूक बनाने को कहा गया है।